मणिपुर में फिर हिंसा, पुलिस से झड़प में 50 से ज्यादा महिलाएं घायल

इंफाल: मणिपुर में एक बार फिर हिंसा भड़क गई है. पुलिस द्वारा हथियार के साथ गिरफ्तार किये गये पांच आरोपियों को छुड़ाने के लिए प्रदर्शन किया गया. भीड़ ने पुलिस वाहनों को रोका और पुलिस स्टेशनों पर भी हमला करने की कोशिश की। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं थीं. पुलिस के साथ झड़प में करीब 50 महिलाएं घायल हो गईं. इंफाल में दो दिन का कर्फ्यू लगाया गया है.
मणिपुर में पुलिस के साथ झड़प में 50 से ज्यादा महिलाओं के घायल होने की खबर है. महिलाओं द्वारा पुलिस पर निशाना साधने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी. फिर भी स्थिति नियंत्रित नहीं हो सकी तो पुलिस कर्मियों ने फायरिंग कर दी. गोलीबारी के बाद कई लोग भाग गए और इससे लोगों के बीच झड़प भी हुई. पांचों आरोपियों को हथियार के साथ पकड़े जाने के बाद आरोपियों की रिहाई के लिए प्रदर्शन शुरू हो गया. राजधानी में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया और दो दिनों के लिए पूर्ण तालाबंदी का आदेश दिया गया।
ये प्रदर्शन मातेई महिलाओं ने किया. मैतेई महिलाओं ने दावा किया कि पुलिस ने कुकी समुदाय के किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं किया है। मैतेई समुदाय के युवाओं को ही निशाना बनाता है. सरकार ने कुछ दिनों के लिए कर्फ्यू में ढील दी थी. उम्मीद थी कि लोगों के जीवन में सुधार होगा. संवेदनशील जिलों में सुरक्षा बलों को फिर से सख्त करने का आदेश दिया गया है.